भक्ति से ही जीवन का कल्याण संभव- वर्षा देवी

श्री बालाजी साक्षात्कार ट्रस्ट द्वारा रेलवे रोड स्थित द्वारा रेलवे रोड स्थित श्री वैष्णो देवी मंदिर में श्रीमद् भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है जिसमें कथावाचक किशोरी वर्षा देवी जी श्रद्धालु पर ज्ञान वर्षा कर रही हैं। कथावाचक वर्षा देवी जी से हमारे मैनेजिंग एडिटर प्रदीप वर्मा ने बातचीत की।

श्रीमद्भागवत कथा की माध्यम से आप लोगों को क्या संदेश देना चाहेंगी?

श्रीमद्भागवत कथा के माध्यम से यही संदेश देना चाहूंगी कि जो लोग भक्ति की ओर से विमुख हो रहे है, उन्हें भगवान के नाम में मन लगाना चाहिए। हमारा मानना यह है कि अगर हम हजारों लोगों की भीड़ में से 20 लोगों को भी भगवान की सच्ची श्रद्धा में लगा पाते हैं, हमारा कर्म सफल हो जाता है।

आजकल लोगों का रुझान धार्मिक आयोजन की तरफ से कम होता जा रहा है, इसके पीछे आप क्या कारण मानती हैं?

जी, आपने बिल्कुल ठीक कहा कि आजकल लोगों का रुझान धार्मिक आयोजन की तरफ से कम हो रहा है लेकिन इसके पीछे कारण यह है कि जो लोग कथा सुनने के लिए आते हैं कोई ध्यान नहीं है बल्कि वह कथावाचक से ज्यादा समझदार होते है और तथा वाचक की मंशा को भाग लेते हैं मेरा मानना यह है कि बिना स्वार्थ की अपना काम करने से सफलता हाथ लगती है इसलिए मनुष्य को निस्वार्थ भाव से अपने काम करना चाहिए भगवान सफलता जरूर देंगे।

लोगों की बेरुखी के लिए कहीं आसाराम बापू जैसे संत तो जिम्मेदार नहीं है?

मैं इसमें सिर्फ इतना ही कहना चाहूंगी कि चाहे संत हो या फिर आम व्यक्ति, अगर उसमें अहम आ जाएगा, तो उस का पतन निश्चित​ है। इसलिए मनुष्य को अहम को त्याग कर राम के नाम में मन लगाना चाहिए।

Comments

comments

268 thoughts on “भक्ति से ही जीवन का कल्याण संभव- वर्षा देवी

Leave a Reply

Your email address will not be published.